शुक्रवार, 19 नवंबर 2010

साईं-Saibaba




कुदरत का करिश्मा




 
16-17 नवम्बर २०१० की रात को भुवनेश्वर और उडिसा के अन्य स्थानों पर चंदा मामा का यह करिश्मा देखा गया जब इनमें साईं बाबा को देखा गया!!  हज़ारों लोगों ने इस अद्भुत दृश्य के दर्शन किए।  कई लोगों ने पूजा-अर्चना की तो कुछ ने इसे बादलों का प्रभाव बताया। तभी तो एक शायर ने कहा था-

कुछ ने कहा ये चाँद है, कुछ ने कहा चेहरा तेरा!!     


[हैदराबाद से निकलने वाली दैनिक पत्रिका ‘द दक्कन क्रोनिकल’ से साभार]    

4 टिप्‍पणियां:

NEHA MATHEWS ने कहा…

आश्चर्यजनक! सुन्दर! यह दर्शन कराने के लिए बहुत बहुत आभार | धन्यवाद |

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

अद्भुत.

ZEAL ने कहा…

Indeed a miracle !

Kamal ने कहा…

Very strange,indeed,. The reflection of the face of Shree Sai Baba is very clear. It needs scientific investigation as such a phenomiona is
seen for the first time .
kamal