शनिवार, 25 जुलाई 2009

एक विवाद और!

हिंदी अकादमी के सचिव का इस्तिफ़ा



प्रसिद्ध हास्य कवि अशोक चक्रधर को हिंदी अकादमी का उपाध्यक्ष बनाए जाने पर उठे विवाद के बीच अकादमी के सचिव ज्योतिष जोशी ने आज अपने पद से इस्तिफा दे दिया है।

सुपरिचित आलोचक ज्योतिष जोशी ने अकादमी की अध्यक्ष श्रीमती शीला दीक्षित को अपना त्यागपत्र सौंप दिया है। इससे पूर्व, श्री चक्रधर को अकादमी का उपाध्यक्ष बनाए जाने के विरोध में संचालन सचिव की सदस्या एवं लेखिका अर्चना वर्मा ने भी अपना त्यागपत्र श्रीमती दीक्षित को सौप दिया था।

संचालन समिति के अन्य सदस्य सर्वश्री विश्वनाथ त्रिपाठी और नित्यानंद तिवारी भी श्री चक्रधर को उपाध्यक्ष बनाए जाने पर असंतोष व्यक्त किया है।

कल ‘हंस’ के संपादक राजेंद्र यादव, सहित्यकार रामशरण जोशी, पंकज बिष्ट, मंगलेश डबराल और आनंद प्रकाश ने भी श्रीमती दीक्षित को पत्र लिखकर अपना विरोध जताया था। ज. स. म. के अध्यक्ष मैनेजर पाण्डेय और केदारनाथ सिंह ने भी अकादमी को स्वायत्त और राजनीतिक छाया से मुक्त करने की मांग की थी।

श्री जोशी ने संवाददाताओं से बात करते हुए कहा कि अकादमी में जिस तरह की परिस्थितियां बन रही थीं, उनमें उनके लिए कार्य करना मुश्किल हो गया था, इसलिए उन्होंने त्याग-पत्र देना उचित समझा। श्री जोशी ललित कला अकादमी की पत्रिका ‘समकालीन कला’ के संपादक भी थे और प्रति नियुक्ति पर हिंदी अकादमी के सचिव बनाए गए थे

1 टिप्पणी:

ज्ञानदत्त पाण्डेय | Gyandutt Pandey ने कहा…

जानकारी के लिये शुक्रिया।