गुरुवार, 13 अगस्त 2009

संसद में नोक-झोंक

मैं जयपाल रेड्डी का सेक्सी दोस्त नहीं हूँ- लालू


हाल ही सम्पन्न लोकसभा के अधिवेशन में राजदा प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने शहरी विकास मंत्री एस. जयपाल रेड्डी को अपना ‘सेक्सी दोस्त’ मानने से इन्कार कर दिया। इस ‘राज़’ के खुलने पर संसद में ठहाका लगा।


सदन में मेट्रो रेलवे सम्बन्धी चर्चा पर जब लालू प्रसाद ने दिल्ली मेट्रो को शहरी विकास मंत्रालय के आधीन लाने का विरोध किया तो जवाब में मंत्री ने कहा कि पूर्व रेल मंत्री दशकों से उनके करीबी हैं और वह उनके ‘शख़्सी’दोस्त [personal friend] हैं। परंतु रेड्डीजी हिंदीतर भाषी होने के कारण उनके हिन्दी उच्चारण से वह शब्द सेक्सी सुनाई पडा। इस पर तुरंत चुटकी लेते हुए लालूजी ने प्रतिवाद करते हुए कहा-"मैं जयपालजी का सेक्सी दोस्त नहीं हूँ।"


इस पर सदन में ज़ोरदार ठहाका लगा जिसमें लालूजी और रेड्डीजी की हसी भी शामिल थी।

4 टिप्‍पणियां:

AlbelaKhatri.com ने कहा…

ha ha ha ha

Suresh Chiplunkar ने कहा…

क्या गजब का "दोस्ताना" है… :)

अर्शिया अली ने कहा…

जन्माष्टमी की हार्दिक बधाई.
( Treasurer-S. T. )

परमजीत बाली ने कहा…

यह भी खूब रही.....